￰अब घबरा गए हैं खुद से, भागे तो टकरा गए हैं खुद से। अब ना खुद रहे ना रही हैं वह गर्मजोशियां, नज़र भी अब नहीं मिला पा रहे हैं खुद से। क्या हम वहीं हैं जो दूसरों के लिए लड़ते थे, अब तो अपनी लड़ाई भी नहीं लड़ पा रहे हैं खुद से।

0 Comments

Tweaks For Skype 1.0.0.1 Free

Tweaks for Skype is a handy and reliable program that encases a collection of tweaks for personalizing Skype's behavior. Tweaks for Skype makes it possible to disable ads, update checks,…

0 Comments